Breaking News

BPSC 67th PT Exam: अब नए पैटर्न पर होगी बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) की परीक्षा, यहाँ पढ़े सभी जानकारी

BPSC 67th PT Exam : बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) ने 67वीं संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा की तिथि जारी कर दी है। परीक्षा 20 और 22 सितंबर को होगी। आयोग पहली बार दो दिनों में प्रारंभिक परीक्षा लेगा।

पसेंटाइल के आधार पर प्रारंभिक परीक्षा के परिणाम जारी किए जाएंगे

336x280 MilesWeb

आयोग के नए अध्यक्ष अतुल प्रसाद ने गुरुवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 67वीं परीक्षा में कई बड़े बदलाव किए गए हैं। प्रारंभिक परीक्षा दो दिन ली जाएगी। इस वजह से पहली बार पसेंटाइल के आधार पर प्रारंभिक परीक्षा के परिणाम जारी किए जाएंगे।

802 पदों के लिए 6 लाख दो हजार अभ्यर्थी शामिल होंगे

यह बदलाव पारदर्शिता बरतने के लिए किया गया है। इससे पहले आठ मई को हुई 67 पीटी पेपर लीक के चलते रद्द करनी पड़ी थी। 802 पदों के लिए 6 लाख दो हजार अभ्यर्थी शामिल होंगे।

पीटी के बाद ऑप्शनल पेपर में बदलाव का मौका: प्रारंभिक परीक्षा के बाद छात्रों को ऑप्शनल पेपर में बदलाव का मौका मिलेगा। अब तक ऐसा नहीं होता था। वहीं, इस बार परीक्षा केंद्रों पर जैमर लगाए जाएंगे। इससे मोबाइल काम नहीं करेगा। परीक्षा केंद्र से लेकर कुछ किलोमीटर दूर तक प्रश्नपत्रों को वायरल नहीं कर सकेंगे। जैमर नहीं लगाए जाने से ही प्रश्नों को आसानी से वायरल कर दिया जाता है।

परीक्षा पैटर्न में ये बड़े बदलाव

  • पर्सेटाइल के आधार पर प्रारंभिक परीक्षा का निकाला जाएगा रिजल्ट पीटी व मेन्स दोनों की मूल्यांकित कॉपियों को वेबसाइट पर डालेगा
  • प्रारंभिक परीक्षा के बाद छात्रों को ऑप्शनल पेपर में बदलाव का मिलेगा मौका।
  • सभी प्रश्नपत्रों में यूनिक आईडी होगा, जीपीएस लगे स्पेशल बॉक्स में भेजा जाएगा प्रश्नपत्र।
  • छात्रों के समक्ष ही खोला जाएगा प्रश्नपत्र व सील भी किया जाएगा।
  • परीक्षा से एक घंटा पहले छात्रों को केंद्र पर अपनी सीट पर बैठ जाना होगा।
यह भी पढ़े   BRABU TDC Part 1 Exam Form 2021 : विलंब शुल्क के साथ आज भर सकेंगे स्नातक सत्र 2021-24 के पार्ट 1 का परीक्षा फॉर्म, यहां देखें Official नोटिस

जीपीएस लगे बॉक्स में भेजा जाएगा प्रश्नपत्र

आयोग के अध्यक्ष ने बताया कि पेपर लीक नहीं हो, इसके लिए कई उपाय किए गए है। आयोग की ओर से प्रश्नपत्र स्पेशल स्टील बॉक्स में भेजा जाएगा। इनमें जीपीएस लगा होगा। अगर कोई बॉक्स के साथ छेड़छाड़ करेगा तो इसकी जानकारी मिल जाएगी।

अभ्यर्थियों के सामने ही खोला जाएगा पेपर का बंडल

छात्रों को परीक्षा रूम में एक घंटा पहले बैठा दिया जाएगा। प्रश्नपत्रों के बंडल का सील परीक्षा हॉल में छात्रों के सामने खोला जाएगा। परीक्षा के बाद छात्रों के सामने ही ओएमआर को सील किया जाएगा। इसलिए छात्रों को परीक्षा के 15 मिनट बाद निकलने दिया जाएगा।

सभी प्रश्नपत्रों का अपना यूनिक आईडी होगा

सभी केंद्रों के प्रश्नपत्रों का अपना यूनिक आईडी होगा। इसमें किसी तरह की गड़बड़ी करने पर पता चला जाएगा। जिस केंद्र पर ऐसी हरकत होगी, आयोग सिर्फ उसी केन्द्र की परीक्षा स्थगित करेगा। सभी केंद्रों की स्थगित नहीं करनी पड़ेगी।

उपस्थिति की कई जगहों पर होगा मिलान

बीपीएससी की परीक्षाओं में छात्रों की उपस्थिति का कई स्तरों पर मिलान किया जाएगा। परीक्षा केंद्रों पर बॉयोमीट्रिक उपस्थिति के साथ ही पूर्व दिये गए आवेदन के हस्ताक्षर से लेकर मुख्य परीक्षा की उपस्थिति का मिलान किया जाएगा। फोटो से लेकर हर तरह की जांच की जाएगी।

पीटी व मेन्स की कॉपी साइट पर डलेगी

अप्रारंभिक और मुख्य परीक्षा की मूल्यांकित कॉपियों को आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध करा दिया जाएगा। छात्र अपने रोल नंबर से सीधे कॉपी निकाल सकते हैं। इससे छात्रों की शंका दूर होगी। अंतिम रिजल्ट जारी होने से पहले छात्रों की कॉपियों की चेकिंग दुबारा की जाएगी।

यह भी पढ़े   India Post GDS Recruitment 2023 : 40889 Vacancies Notification Released, Click to Know More & Apply Online

परीक्षा फॉर्म समेत अन्य सभी अपडेट के लिए Join करे

ऐसे ही ताज़ा खबर पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज एवं ट्विटर पर फ़ॉलो जरूर करें आप हमारे व्हाट्सप्प ग्रुप भी ज्वाइन कर सकते है


whatsapp cover

Leave a Comment