अनलॉक – 5 बिहार में सभी स्कूलों को खोलने का आदेश जारी

अनलॉक – 5 बिहार में सभी स्कूलों को खोलने का आदेश जारी

336x280 MilesWeb

PATNA : बिहार सरकार ने कोरोना के मामलों के तेजी से गिरावट को देखते हुए अनलॉक 5 की गाइडलाइन का एलान कर दिया है. सरकार ने सभी स्कूलों को खोलने का आदेश दे दिया है. सरकार की ओर से विस्तृत जानकारी साझा की गई है. नीतीश सरकार ने अलग-अलग चरणों में स्कूलों को खोलने का आदेश दिया है. पहली कक्षा से लेकर स्नाकोत्तर तक के शिक्षण संस्थानों को डिफरेंट फेज में ओपन करने का डिसीजन लिया है.

कोरोना की चेन टूटने के बाद स्कूलों को खोलने का फैसला

बुधवार को आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में अनलॉक को लेकर कई फैसले लिए गए. बिहार में कोरोना की चेन टूटने के बाद स्कूलों को खोलने का फैसला कर लिया गया है. स्कूलों के साथ ही सिनेमा हॉल और मॉल को भी खोलने की इजाजत दे दी गई है. लेकिन ध्यान रहे कि सरकार ने मंदिर-मस्जिद समेत तमाम धार्मिक स्थलों को 25 अगस्त तक बंद रखने का आदेश दिया है.

अनलॉक5 की गाइडलाइन 7 अगस्त से 25 अगस्त तक लागू

सरकार की ओर से जारी अनलॉक5 की गाइडलाइन 7 अगस्त से 25 अगस्त तक लागू रहेगा. सरकार ने कहा कि सभी प्रकार के कॉलेज और तकनीकी संस्थान, नौवीं क्लास से लेकर बारहवी कक्षा तक के विद्यालय कुल छात्रों की पचास फीसदी उपस्थिति के साथ और एक दिन बीच कर खोले जा सकेंगे.

6 अगस्त से 9वीं और 10वीं के स्कूल खोले जाएंगे.

6 अगस्त से 9वीं और 10वीं के स्कूल खोले जाएंगे. जबकि पहली क्लास से लेकर आठवीं कक्षा तक के स्कूल 16 अगस्त से खोले जाएंगे. इन स्कूलों को भी 50 प्रतिशत छात्रों की उपस्थिति के साथ ही खोलने का आदेश दिया गया है.

यह भी पढ़े   बिहार के प्राइवेट स्कूलों का संचालन 31 दिसंबर के बाद नहीं हो सकेगा, पहले करें यह काम, तब मिलेंगी स्वीकृति

इससे पहल सभी विद्यालयों में साफ-सफाई और सेनिटाइज किया जाएगा. गौरतलब हो कि पिछली बार 11वीं से 12वीं तक की अनुमति दी गयी थी. कस्तुरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय, अनुसूचित जाति जनजाती आवासीय विद्यालय और कर्पूरी छात्रावासों का संचालन अनुमान्य होगा.

कोचिंग संचालक कुल छात्रों की 50 फीसदी उपस्थिति

सरकार ने स्कूल खोलने के साथ-साथ कोचिंग खोलने को लेकर भी बड़ा निर्णय लिया है. सरकार ने दसवीं क्लास से ऊपर के छात्रों को प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कराने वाले कोचिंग को खोलने की इजाजत दी गई है. सरकार ने कहा कि कंपटीशन की तैयारी करा रहे कोचिंग संचालक कुल छात्रों की 50 फीसदी उपस्थिति के साथ अल्टरनेट डे यानी कि एक दिन बीच कर खोल सकते हैं. अन्य किसी भी प्रकार के कोचिंग संस्थान बंद रहेंगे.

सभी दुकाने एवं प्रतिष्ठान सामान्य रूप से साप्ताहिक बंदी के साथ संध्या सात बजे तक खुल सकेगी. दुकानों और प्रतिष्ठानों में केवल कोविड टीका प्राप्त व्यक्तियों को ही कार्य करने की अनुमति होगी. सभी दुकानों प्रतिष्ठानों को अपने यहां कार्यरत कर्मियों की सूची टीकाकरण की स्थिति के साथ स्थानीय थाने को देनी होगी

50 प्रतिशत के उपयोग के साथ संध्या 7 बजे तक खुल सकेंगे

सार्वजनिक परिवहन में 100 प्रतिशत क्षमता की अनुमति होगी. पहले पचास प्रतिशत था. खड़े होकर या बस की छत पर बैठकर यात्रा करने की अनुमति नहीं होगी. सिनेमा हॉल कुल दर्शकों की क्षमता के 50 प्रतिशत के उपयोग के साथ संध्या 7 बजे तक खुल सकेंगे. शॉपिंग मॉल एक दिन बीच कर अल्टरनेट डे संध्या 7 बजे तक खुल सकेंगे. कोरोना के तीसरे लहर की संभावनाओं को देखते हुए आपदा प्रबंधन समूह द्वारा स्थिति पर निगरानी रखी जाएगी. सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनने के लिए व्यापक प्रचार प्रसार किया जाएगा.

यह भी पढ़े   BJP के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह का निधन,

गौरतलब हो कि बिहार में लंबे समय बाद कोरोना संक्रमितों की संख्या 50 से नीचे पहुंच गई है. बिहार के पटना शहर में कोरोना संक्रमण से स्थिति लगातार सुधर रही है. अगर वर्तमान के आंकड़ों पर गौर करें तो जिले में रोजाना पांच से सात मरीज ही पॉजिटिव मिल रहे हैं. विशेषज्ञों की मानें तो अगर यही रफ्तार रही तो पटना जिला जल्द ही कोरोना मुक्त हो जायेगा.

पीएमसीएच हॉस्पिटल कोरोना मुक्त हो गया है. जबकि आइजीआइएमएस, एनएमसीएच और एम्स अस्पताल में सिर्फ 16 ही कोरोना के मरीज बच गये हैं. इनमें 12 आइजीआइएमएस, दो एम्स और दो एनएमसीएच अस्पताल में कोविड के मरीज भर्ती हैं. इनका इलाज जारी है.

ऐसे ही ताज़ा खबर पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज एवं ट्विटर पर फ़ॉलो जरूर करें आप हमारे व्हाट्सप्प ग्रुप भी ज्वाइन कर सकते है

Share on: